रिलायंस जियो का 399 का रिचार्ज हुआ महंगा, देने होंगे अब इतने ऐतिहासिक दिन: पूरी दुनिया में द्विशताब्दी जन्मदिवस समारोह मनाया जा रहा VIDEO : हर्षिता दहिया मर्डर केस में जीजा ने कबूला अपना गुना कहा- मान ही नहीं रही थी वर्ल्डस्टील एसोसएिशन के कोषाध्यक्ष बने सज्जन जिंदल सैनिक स्कूल में टीचर एवं वार्ड बॉय पदों के लिए निकली भर्ती, इस तरह करे आवेदन 21 और 22 अक्टूबर 2017 को मनाई जाएगी युगावतार बहाउल्लाह के जन्म की 200वी वर्षगांठ भैया दूज विशेष : क्यों मनाया जाता है ये त्यौहार, पढ़िए इससे जुडी कथा? राजस्थान पुलिस ने कांस्टेबल पदों के लिए माँगा आवेदन, इस तरह करे आवेदन कांग्रेस ने पूर्व क्रिकेटर अजहरुद्दीन को तेलंगाना से चुनाव लड़ने के लिए किया आमंत्रित लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर आज से यातायात बंद, एक्सप्रेस-वे पर 24 को वायुसेना के 20 विमान करेंगे अभ्यास ...तो इस कारण से नहीं दिखाई दे रहा है 200 रुपए का नोट VIDEO : प्रधानमंत्री ने केदारनाथ का किया दौरा, कई परियोजनाओं की रखी आधारशिला जन्मदिन मुबारक हो पाजी, 39 बरस के हुए सहवाग मोदी ने केदारनाथ मंदिर में की पूजा-अर्चना, देखे वीडियो वीडियो : हर्षिता दहिया की मर्डर मिस्ट्री सुलझी, जीजा ने करवायी साली की हत्या सरपंच के घर बिना दस्तक दिए घुसा बुजुर्ग, मिली ऐसी सजा... बिहार: कारोबारी की हत्या के विरोध में मचा बवाल, पुलिस फायरिंग में 1 की मौत आगरा एक्सप्रेस-वे पर पहली बार उड़ान भरेंगे परिवहन विमान AN-32 हिमाचल: चंबा में रावी नदी पर बना पुल क्षतिग्रस्त, 6 लोग हुए घायल आज है गोवर्धन पूजा, जानिए पूजन विधि और महत्व
हाथ फेरते ही होने लगता है पानी का रिसाव, पूरी होती है मन्नत
sanjeevnitoday.com | Friday, August 11, 2017 | 04:19:29 PM
1 of 1

झारखंड। झारखंड की राजधानी रांची से 20 किलोमीटर दूर स्थित है एडचोरो। यहां पर पहाडी पर महादेव का एक मंदिर बना हुआ है जिसे लादा महादेव टंगरा के नाम से जाना जाता है। यह मंदिर 2 कारणों से भक्तों की आस्था का केंद्र है। 

 

पहला कारण 

यह भी पढ़े: अपने पांच बच्चों को गंवाने के बाद इस शख्स ने बचा ली सैकड़ो लोगो की जिंदगी

मंदिर परिसर में स्तिथ एक चट्टान है। ऐसी मान्यता है की अगर सच्चे मन से महादेव टंगरा की चट्टान पर हाथ फेरा तो पानी का रिसाव होने लगाता है और आपकी मांगी हुई हर मन्नत पूरी होती है।

दूसरा कारण

यहां एक पत्थर पर बने हुए 15 जो की रामायण कालीन माने जाते है। ऐसा माना जाता है की यहां पर राम और सीता अपने वनवास के दौरान आए थे और ये पद चिन्ह उनके ही है। भक्त लोग इन पद चिन्हों को छूकर भी मुरादे मांगते है। ये परम्पराए यहां पर सदियों से चली आ रही है। यहां हर दिन बडी संख्या में लोग पहुंचते है। इसके अलावा यहां पर रामनवमी, शिवरात्रि और सावन में भक्तों का हुजूम उमडता है।

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे!

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.