संजीवनी टुडे

News

रन फॉर रन का 'भोपाल गैस त्रासदी' पीड़ितों ने किया विरोध, कहा-मातम के दिन जश्न मनाना ठीक नहीं

Sanjeevni Today 03-12-2017 14:20:32

नई दिल्ली। आज यानी 3 दिसंबर को भोपाल गैस त्रासदी को 33 साल पुरे हो गए हैं। लोगों के जहन में आज भी 1984 का मंजर ताजा हैं। इस अवसर पर मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में रन भोपाल रन दौड़ का आयोजन किया गया। और इसमें सैंकड़ों लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। भोपाल ग्रुप फॉर इंफॉर्मेशन एंड एक्शन के नेतृत्व में बड़ी संख्या में लोग सुबह छह बजे राजभवन के सामने पहुंचे और सड़क पर सफेद कपड़ा (कफन) लेकर लेट गए।

ये भी पढ़े: वीडियो वायरल पर बोले हार्दिक, कहा- बीजेपी कर रही है मुझे बदनाम करने की कोशिश

वे रविवार को एक संगठन द्वारा आयोजित 'रन फॉर रन' का विरोध कर रहे थे। उनका कहना था कि एक तरफ आधा भोपाल मातम मना रहा है, वहीं दूसरी ओर उत्सव मनाया जा रहा है। गैस पीड़ित संगठनों का आरोप है कि 3 दिसंबर का दिन भोपाल के लिए मातम का दिन है ऐसे में इस दिन को जश्न के रूप में मनाना ठीक नहीं है।

ये भी पढ़े: Video: इस एक्टर के अन्नपूर्णा स्टूडियो में लगी आग, दो तेलुगू फिल्मों के सेट हुए खाक

वहीं दूसरी ओर आयोजकों का कहना था कि रन भोपाल रन का आयोजन जागरुकता के मकसद से किया गया था जिसमें लोगों को अंगदान के लिए प्रेरित करने के साथ ही गैस कांड के दौरान मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी गई। आपको बता दें की भोपाल के लिए दो-तीन दिसंबर, 1984 की रात तबाही बनकर आई थी। इस रात यूनियन कार्बाइड संयंत्र से रिसी मिथाईल आइसो सायनाइड (मिक) गैस ने हजारों लोगों को मौत की नींद सुला दिया था, वहीं लाखों लोगों को जिंदगी और मौत के बीच झूलने को मजबूर कर दिया था।

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

Watch Video

More From national

Recommended