आखिर क्या हुआ भारत के विराट को, बरसे अंपायर पर.. ये शो वापस लाएगा मशहूर ITEM GIRL राखी सावंत ! शिक्षा आर्थिक संवृद्धि की पहली शर्त : मनमोहन सिंह निम्मो का पहला लुक जारी, जरूर देखे जूनियर और सीनियर हाकी में एकरूपता चाहते हैं कोच IPL 2017 में नहीं होंगे KKR के गेंदबाजी कोच वसीम अकरम केरल के CM को हुई असुविधा के लिए MP के शीर्ष अधिकारियों को खेद शशिकला को संभालनी चाहिए अन्नाद्रमुक की कमान : पन्नीरसेल्वम HOCKEY: इंग्लैंड भी नही रोक सका भारत का विजयी अभियान, 5-3 से परास्त BIRTHDAY PARTY: स्टनिंग लुक में नजर आई नव्या पिस्टल दिखाकर महिला से मारपीट और गैंगरेप पर्रिकर ने मॉरीशस को पूर्ण सहयोग का दिया आश्वासन ऐसा क्या कारण था जो कटप्पा ने बाहुबली को मारा तेलंगाना में करीब 82 लाख रूपये के नए नोट जब्त पंजाब: बेरवाला गांव के जंगल में मिली मिसाइल,मचा हड़कंम एयर इंडिया फंसे यात्रियों को निकालने के लिए आज रात दो उड़ानें करेगी संचालित नहीं मिली एम्बुलेंस, मजबूरन हाथ रिक्शे से लाना पड़ा शव life Ok शो ‘बहू हमारी रजनीकांत’ बंद नहीं होगा भारत को तीन साल में मिलेगी राफेल लड़ाकू विमानों की पहली खेप: वायुसेनाध्यक्ष खेल मंत्री ने सोनीपत में नए कुश्ती हाल का उद्घाटन किया..
Whats App के ज्यादा यूज से बची महिला की जान
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 09:04:22 PM
1 of 1

बीकानेर। व्हाट्सऐप की वजह से लोगो की मृत्यु की घटनाओ को तो सुना है लेकिन क्या अपने सुना है की व्हाट्सऐप के कारण किसी की जान बच जाये।।  डोगरा ने आज यहां एक बैठक में यह जानकारी देते हुए बताया कि नोखा ब्लॉक के मैनसर गांव की मघी को प्रसव के दौरान स्थिति गंभीर होने पर जिला औषधि भंडार के नोडल अधिकारी डॉ. नवल किशोर गुप्ता ने पूरे प्रकरण को ‘मेडिकल डिपार्टमेंट बीकानेर’ के नाम से बने व्हाट्सऐप ग्रुप में डाला। जिला कलेक्टर आरती डोगरा द्वारा चिकित्सकों को गंभीर रोगी के उपचार में व्हाट्सऐप का प्रयोग करने के निर्देश से एक महिला रोगी को समय पर उपचार मिलने से जान बच गयी। उन्होंने बताया कि ग्रुप में मामला आते ही पीबीएम के प्रसूति रोग विभाग के डॉ. सुवाराम सैनी ने व्हाट्सऐप पर प्राथमिक उपचार, दवा व संबंधित निर्देश प्रदान किए, जिसकी अनुपालन में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नोखा कि चिकित्सक ने मरीज का इलाज किया जिससे उसकी जान बच गयी।

डोगरा ने बताया की महिला के स्वस्थ्य होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। अगर मघी देवी को उच्च इलाज के लिए भेजा नहीं जाता और रास्ते भर एम्बुलेंस में व्हाट्सऐप ग्रुप में कहे अनुसार इलाज नहीं किया जाता तो महिला की जान बचनी मुश्किल थी।

यह भी पढ़े: ये है दुनिया के सबसे पेचीदा 21 तथ्य जिनका जानना बेहद जरुरी... पढ़े एक बार

यह भी पढ़े: नाक में क्यों होते है दो छेद? जाने वजह

यह भी पढ़े: जिंदगी भर के लिए छिन गयी इस लड़की की हंसी... पढ़ना ना भूले

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.