संजीवनी टुडे

News

पर्दा प्रथा ! भारत में इस तरह शुरुआत हुई पर्दा प्रथा की, बड़ी दिलचस्प है वजह

Sanjeevni Today 02-12-2016 06:07:12

नई दिल्ली। पुराने प्राचीन वेदों एवं धर्मग्रंथों में पर्दा प्रथा का कहीं भी विवरण नहीं मिलता है। हिंदुओं के पवित्र ग्रन्थ ऋग्वेद में लोगों को विवाह के समय, कन्या की ओर देखने को कहा गया है। इस समय भी महिला बिना पर्दे के रह सकती थी। के अनुसार सबसे पहले महाकाव्य में पर्दा प्रथा मिलती है। पर यहाँ भी केवल कुछ राजपरिवारों में ये मिलता है। जो घराने बहुत बड़े और नामी होते थे, केवल वह ही ऐसा करते थे।

स्त्रियों के साथ छल
अब हम मुगलकालीन इतिहास के पन्नों को जब पलटना शुरू करते हैं, तो यहाँ दो बातें साफ़ हो जाती हैं, पहली कि जब मुस्लिम शासक भारत में आये, तब यहाँ स्त्रियों के साथ रेप के मामले सामने आते हैं क्योकि इससे पहले रेप भी हमारे यहाँ कहीं नज़र नहीं आता है। हमारे धर्म में स्त्रियों के साथ छल तो नज़र आता है, पर रेप कहीं नहीं दिखता। दूसरी बात कि पर्दा प्रथा भी मुस्लिम लोगों के देश में आगमन होने के बाद ही नज़र आती है।

'धर्मशास्त्र का इतिहास पुस्तक' में आगे पेज 337 पर पर्दा प्रथा के दो प्रमुख कारण बताये गये हैं-

हिंदू स्त्रियों को सुरक्षा प्रदान करने की दृष्टि से। महिलाओं को सुरक्षा देना अब काफी जरूरी हो गया था। आये दिन महिलाओं को निशाना बनाया जा रहा था। मुस्लिम समाज की स्त्रियों में ये था, तो हमारे समाज ने भी खुलेपन को रोकने के लिए और अपनी महिलाओं को बुरी नजर से बचाने के लिए इसको लागू करवाया।

यह भी पढ़े: जेब में रखे चीनी करेगा मोबाइल चार्ज ये है तरीका

यह भी पढ़े: नोटबंदी से नोटवाली हुई एप्पल, इस तरह हुआ फायदा

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

Watch Video

More From interesting-news