आज का राशिफल (18 जनवरी 2017) सुल्तान कुतबुद्दीन ऐबक का इतिहास ये है ऐसा देश जहां मर्द करते है महिलाओ की गुलामी.. जानिये बंदर को भी टीवी देखने में आता है मजा... भारत के महान शहीदों और वीरो से संबंधित जानकारी और तथ्य ...तो जियो यूजर्स को 31 मार्च 2017 के बाद भी मिल सकती है फ्री सेवा इसलिए लिया भगवान श्री गणेश ने विकट अवतार बाप रे! इतनी ठंड की बर्फ में लोमड़ी तक जम गई... OMG यह है अजीबोगरीब परम्परा : यहाँ हजारों लोगों के बीच भस्म हुआ मंदिर... रिकार्ड बनाकर भी न्यूजीलैंड से हारा बांग्लादेश डि'विलियर्स ने अटकलों पर लगाया विराम, नहीं लेंगे किसी भी फॉर्मेट से सन्यास भूमि अधिग्रहण के खिलाफ हिंसक आंदोलन, फायरिंग में एक की मौत 9 बाइक चोर आठ बाइक के साथ रंगे हाथ पकडे गए... हार्दिक ने सरकार को ललकारा, कहा- आरक्षण नहीं देंगे तो छीन कर लेंगे ट्रेलर रिलीज : बोल्डनेस का सबूत देती है 'माया' रिश्वत लेते महिला कर्मी रंगेहाथ गिरफ्तार भारत अकेले शांति के रास्ते पर नहीं चल सकता: मोदी नहीं रहे चांद पर जाने वाले आखिरी व्यक्ति एक वीडियो ने रातों-रात बना दिया स्टार पाक सिंगर को... साईकिल को मिला हाथ का साथ, यूपी में महागठबंधन का फार्मूला तय: कांग्रेस 80, सपा 280 व आरएलडी को 20 सीटें
खतरनाक जानवर को पलक झपकते ही पकड़ लेता ये युवक, पकडऩे में हासिल है महारत
sanjeevnitoday.com | Wednesday, November 30, 2016 | 12:20:43 PM
1 of 1

करौली। गोयरे को बेहद जहरीला माना जाता है। लोगों का मानना है कि गोयरे के काटने के तीन-चार मिनट में ही मौत हो जाती है। वहीं, राजस्थान में करौली के गुमान सिंह जाट (40) को गोयरा पकडऩे में महारत हासिल है। गुमान सिंह गोयरे को पलक झपकते ही पकड़ लेते हैं। वे गोयरे के मुंह को अपने मुंह में दबा लेते हैं तो यह देखने वाला हर कोई दांतों तले अंगुली दबाने को मजबूर हो जाता है। 

यही नहीं, गुमान सिंह गोयरे की जीभ को पकडक़र बाहर निकाल लेते हैं। हिंडौन उपखंड के क्यारदाखुर्द गांव निवासी गुमान सिंह अभी तक तीन हजार से ज्यादा गोयरे पकड़ चुके हैं। गुमान ने ये सभी गोएरे लोगों के घरों से पकड़े हैं। इन्हें वह जंगल में ले जाकर छोड़ देते हैं। क्यारदाखुर्द निवासी रामचरण जाट के पुत्र गुमान सिंह ने बताया कि वे करीब पांच साल से यह कार्य कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि बाबा जयगुरुदेव मथुरा वाले के सान्निध्य में उन्होंने गोयरा पकडऩे की महारत प्राप्त की। 

गुमान सिंह ने बताया कि गोयरा जंगल में रहता है, लेकिन वह कई बार कॉलोनियों में आ जाता है और लोगों के घरों में घुस जाता है। इससे लोगों में डर बैठ जाता है। कई बार तो लोग गोयरे के कारण अपने घर में भी नहीं जा पाते हैं। गुमान सिंह ने बताया कि जब भी उन्हें सूचना मिलती है तो वे बताए स्थान पर पहुंच जाते हैं। वे वहां से कुछ ही देर में गोयरे को पकडक़र लोगों के डर को दूर करते हैं।

इस प्रकार वे अभी तक तीन हजार से ज्यादा गोयरे पकडक़र जंगल में ले ले जाकर छोड़ चुके हैं। खास बात यह है कि गुमान सिंह इसके बदले किसी एक भी रुपया नहीं लेते। गुमान सिंह ने बताया कि गोयरा मुख्य रूप से एक जगह स्थापित हो जाते हैं तो वे आसानी से अपनी जगह नहीं छोड़ते, इसलिए उन्हें दूर जंगल में छोड़ा जाता है।

यह भी पढ़े: ये है दुनिया के सबसे पेचीदा 21 तथ्य जिनका जानना बेहद जरुरी... पढ़े एक बार

यह भी पढ़े:सपने में भी कांपता था अकबर इस भारतीय योद्धा के नाम से ...

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: दुनिया के सबसे ठंडे महाद्वीप में पानी नहीं बल्कि बहता है खून, छिपे हैं कई राज



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.