हरियाणवी गायिका एवं डांसर हर्षिता दहिया की गोली मारकर हत्या यूपी में खुलेंगे 500 ई-प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सरकार ने सातवां वेतन आयोग लागू कर राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात दी सुरेश खन्ना ने कहा- ताजमहल को राष्ट्रीय धरोहर मानती है सरकार ब्रिटेन में आतंकी हमलों के बाद घृणा अपराध में 29 फीसदी का इजाफा B' Day special: टीम इंडिया ने हार्दिक पंड्या का 24वां जन्मदिन मनाया, शेयर की फोटो मानगढ़ धाम को क्यों कहा जाता जलियावाला बाग? पढ़िए पूरी कहानी ईरान मैक्सिको को हराकर U-17 फुटबॉल विश्व कप के अंतिम आठ में पहुंचे बांसवाड़ा के मानगढ़ धाम में बनेगा राष्ट्रीय जनजाति संग्रहालय 'ताजमहल भारत मां के सपूतों के खून-पसीने से बना है': CM योगी दिल्ली में एयर क्वालिटी खतरनाक स्तर पर, डीजल जनरेटर तक को करना पड़ा बैन न्यूजीलैंड को बोर्ड इलेवन ने अभ्यास मैच 30 रनों से धोया मुख्यमंत्री ने दिया राज्य कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा, राज्य कर्मचारियों के लिए 7वां वेतन आयोग लागू BCCI की अपील पर केरल हाईकोर्ट ने श्रीसंत पर जारी रखा आजीवन बैन भारतीय खाद्य निगम ने वॉचमैन पदों के लिए माँगा आवेदन BCCI ने कुंबले को दी बर्थ डे की बधाई, फैंस के विरोध पर बदलना पड़ा ट्‍वीट पीडीपी के पूर्व पंचायत सदस्य की कल की थी हत्या, आज जला दिया घर IAS किरण सोनी की कृति शेल्टर का पेरिस के लॉवर संग्रहालय में लगने वाली प्रदर्शनी के लिए चयन वाणी कपूर ने फिल्म ‘दाग’ के गाने पर किया हॉट डांस B' day special: सिमी ग्रेवाल ने मनाया 70वां जन्मदिन, जामनगर के महाराजा से था अफेयर
OMG: इस शख्स के नहीं है दोनों हाथ, लेकिन फिर भी...
sanjeevnitoday.com | Tuesday, June 20, 2017 | 12:12:04 PM
1 of 1

नई दिल्ली। ज्यादातर लोग अपने जीवन में आने वाली छोटी-छोटी परेशानियों के वजह से खुद को लाचारी महसूस करते है। लेकिन खुद लाचारी को कभी अपने आप पर हावी ना होने देना चाहिए। इस दुनिया में ऐसे  भी बहुत लोग है जिन्हें देखने के बाद जीने का मकसद बदल जाता है। 

 

ऐसे में इस युवक को देखकर हम तो यहीं कहेंगे कि जीओ तो शान से! खुद को लाचार समझने में "इब्राहिम" नाम के इस युवक ने ने इन सारी सोच को गलत साबित कर रहा है। "इब्राहिम" के दोनों हाथ नहीं है लेकिन वह टेबल टेनिस में चैंपियन है। इब्राहिम का नाम देश के बडे खिलाडियों में गिना जाता है। 

बचपन में ही इब्राहिम ने अपने दोनों हाथ एक दुर्घटना में खो दिए थे। इस कारण उन्होंने अपने पसंदीदा खेल टेबल टेनिस तक को अलविदा कहने का फैसला कर लिया था। लेकिन भगवान को कुछ और मंज़ूर था। इब्राहिम ने अपनी कमजोरी को अपनी ताकत बनाई और इब्राहिम ने इससे लडने का ही निश्चय किया। 

हाथ न होने के बावजूद भी इब्राहिम ने अपने मुंह में टेबल टेनिस का बैट पकडकर खेलने का प्रयास किया और यह प्रयास इतन सफल रहा कि आज इब्राहिम पर उसके देश को भी गर्व है। उनकी इसी कोशिश की बदौलत आज उनका नाम दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टेनिस खिलाडियों में शुमार है। आज तक इन्होंने ने अनेक प्रतियोगिता जीत चुके है।



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.