गौ माता की कब्र खोदने वाले बीजेपी नेता पर पोती कालिख भविष्यवाणी- वन-डे सीरीज को टीम इंडिया 4-1 के अंतर से जीतेगी 2022 तक नक्सलवाद और आतंकवाद ख़त्म हो जाएंगे: राजनाथ सिंह अब आपके स्मार्टफोन से खुलेगा सूटकेस का ताला 2022 तक खत्म होगा आतंकवाद और नक्सलवाद: राजनाथ सिंह कुक के दोहरे शतक से इंग्लैंड मजबूत, सचिन के रिकॉर्ड पर मड़राया खतरा सोहा के घर हुआ बेबी शावर का सेलिब्रेशन, भतीजे तैमूर पर टिकी सबकी नज़रें कालाधन नहीं ईमानदारी का पैसा चाहिए: अमित शाह Night Shift में काम करना आपके स्वास्थ्य के लिए हो सकता है हानिकारक मासूम बच्ची का वीडियो देखकर विराट-शिखर ने दिया इमोशनल संदेश वेस्ट बंगाल ज्यूडिशियल डिपार्टमेंट ने नॉन ऑफिशियल मैरिज ऑफिसर पदों के लिए भर्ती गोरखपुर में पीड़ित परिवारों से मिले राहुल, CM योगी बोले - पिकनिक स्‍पॉट न बनाएं अक्षय की पत्नी ट्विंकल ने की 'टॉयलेट...पार्ट 2' की शूटिंग शुरू, देखें PHOTO युवाओं की आकांक्षा भारत का भविष्य तय करेगी: डॉ जितेंद्र सिंह यहां पर नजर आया श्रीलंका में पाया जाने वाला उड़ने वाला सांप गोरखपुर के पीड़ित परिवारों से मिले राहुल गाँधी इस शख्स की कमाई इतनी कि चाह कर भी नहीं कर पाता खर्च! मोस्ट वांटेड क्रिमिनल गदऊ पासी पर बढ़ी इनाम की धनराशि Asus Rog Strix लैपटॉप आकर्षित लुक व बेहतरीन फीचर के साथ फ़िल्मी दुनिया से दूर हैं 'मोहब्बतें गर्ल', परिवार के साथ कर रहीं लाइफ एन्जॉय
नोटबंदी से परेशान व्यक्ति ने मुंडवाया सिर, जला दिए 23000
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 01:36:12 PM
1 of 1

कोल्लम। 500 और 1000 रुपए के नोटों को कागज के टुकड़े में बदलने के ऐलान के बाद से लोग परेशान हैं।  इन सब परेशानियों की वजह से केरल के कोल्लम के रहने वाले याहिया ने नोटबंदी के विरोध का एक अनूठा तरीक़ा अपनाया है। कोल्लम में छोटा-सा होटल और चाय की दुकान चलाने वाले याहिया ने आधा सिर मुंडवा लिया है। उसने कसम खाई है कि जब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सत्ता से बाहर नहीं कर दिया जाता है तब तक मैं अपने बाल नहीं रखूंगा। केरल के कोल्लम में फास्ट फूड की दुकान चलाने वाले 70 साल के याहिया ने 500 और 1000 के नोट बंद होने की वजह से नाराज होकर सालों से बचाए हुए अपने रुपयों में आग लगा दी। याहिया ने 23000 रुपए के पुरानी करेंसी को आग में झोंक दिया।  केरल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉ अशरफ कदक्कल ने फेसबुक पोस्ट करके इस बारे में बताया। उन्होंने बताया कि कैसे नोटबंदी के चलते याहिया को परेशानी का सामना करना पड़ा और क्यों उसने अपना आधा सिर मुंडवा दिया है। 
 
उन्होंने उस शख्स के हवाले से लिखे गए फेसबुक पोस्ट में कहा- मेरा नाम याहिया है, मेरी उम्र 70 साल के करीब है और मैं केरल के कोल्लम जिले का रहने वाला हूं। मैं अपनी पत्नी और दो लड़कियों के साथ रहता हूं। पहले मैं पेड़ से नारियल तोड़ने और खेती का काम करता था जब मुझे लगा है कि मैं अपनी बेटी की शादी नहीं कर पाऊंगा तो मैंने सबकुछ बेचकर गल्फ जाने का फैसला किया। मुझे वहां बहुत समस्याएं भी हुई। जो भी थोड़ा बहुत जमा किया उसे लेकर वापस आ गया। उन पैसों और बैंक से लोन लेकर बेटी की शादी की। मैं खुद अपना पूरा होटल संभालता हूं, सारे काम खुद करता हूं। मैं आराम से काम कर सकूं इसलिए नाइटी पहनता हूं। मेरे पास 23,000 रुपए के पुराने नोट थे। मैंने इन्हें एक्सचेंज करने के लिए बैंक गया और दो दिन लाइन खड़ा में रहा।
 
उन्होंने आगे लिखा- दूसरे दिन बैंक की लाइन में खड़े रहने के दौरान मेरा शुगर लेवल कम हो गया और मैं लगभग गिर गया। कुछ अच्छे लोगों ने मेरी मदद की और मुझे अस्पताल पहुंचाया। मेरे ऊपर को-ऑपरेटिव बैंक का लोन है, इसके लिए मेरे पास कोई खाता नहीं है। को-ऑपरेटिव में सारे ट्रांजेक्शन बंद होने के बाद मुझे महसूस हुआ कि मैं अपने पैसे कहीं भी नहीं जमा कर पाऊंगा। पाई-पाई जोड़कर बचाए अपने पैसे के लिए मैं कितने दिन तक लाइन में खड़ा रहता। मैंने अस्पताल से घर आने के बाद चूल्हा जलाया और सारे पैसे जला दिए। इसके बाद मैं नाई की दुकान गया और मैने अपना आधा सिर मुंडवा दिया। मैं तब तक अपने बाल वापस नहीं रखूंगा जब तक मेरी मेहनत और बचत को राख में मिलाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सत्ता से बाहर नहीं कर दिया जाता है और इस देश को बचा नहीं लिया जाता।

यह भी पढ़े: दुनिया के सबसे ठंडे महाद्वीप में पानी नहीं बल्कि बहता है खून, छिपे हैं कई राज

यह भी पढ़े: रातों रात करोड़पति बना यह गांव... जानिए इसकी वजह!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

यह भी पढ़े: नोटबंदी के बीच आईएएस अफसरों ने सिर्फ 500 रूपये में रचाई शादी



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.