loading...
एलेन बॉर्डर मेडल: लगातार दूसरी बार सर्वश्रेष्ठ ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर बने डेविड वॉर्नर टीम इंडिया में चयन बहुत बड़ी ख़ुशी बात, फिर भी निराश हैं परवेज रसूल, जानिए क्यों? भाजपा ने किया 'डिजी युवा' अभियान का शुभारंभ कश्मीर में आतंकी ठिकानों का भंडाफोड़ दिल्ली के लिए शुरू हुआ शाहरुख खान का रेल सफर भतीजे की गला रेत कर हत्या राष्ट्रपति ने किया करौली के सोनू का सम्मान मेरी एक बेहद यादगार गजल नक्श लायलपुरी ने लिखी थी: लता मंगेशकर गेंहू उपार्जन में गड़बड़ी करने वालों पर करें कड़ी कार्रवाई : शिवराज मिश्रित मार्शल आर्ट्स लीग से जुड़े टाइगर श्रॉफ सोशल मीडिया पर छा गए अमिताभ बच्चन प्रधानमंत्री ने 25 बच्चों को वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया किंग्स इलेवन पंजाब के रणनीतिकार होंगे सहवाग गोरखपुर: रेलवे स्टेशन उड़ाने की धमकी से मचा हड़कंप भाजपा को उत्तर प्रदेश में मिलेगा दो-तिहाई बहुमत : अमित शाह सलमान के बरी होने पर डेजी ने जताई ख़ुशी देश और समाज के लिए कार्य करें स्वयंसेवक : मोहन भागवत यूपी चुनाव: अखिलेश-राहुल मिलकर करेंगे 14 रैलियां दहेज के लिए विवाहिता की गला दबा कर हत्या टीम इंडिया के खिलाफ आक्रामक अंदाज में खेलना होगा: स्मिथ
Golden Rock ! आज भी अद्भुत तरीके से लटका हुआ ये पत्थर, दुनिया के लिए आज भी चमत्कार
sanjeevnitoday.com | Friday, December 2, 2016 | 06:36:18 AM
1 of 1

म्यांमार! आज की दुनिया में कई सारी अद्भुत कलाएँ आपको देखने के लिए मिल जाएगी, पर आपने कभी ये सुना है की एक भारी भरकम पत्थर करीब 25 फूट उचे एक दूसरे पत्थर के तीखे ढाल पर अटका हुआ है। और कई सालो से वो हिला भी नहीं है। यह नजारा म्यांमार में एक मंदिर में देखने को मिला है, जी हां इस पत्थर को आज तक कितने ही आँधी और तूफ़ान आये पर इसका बाल भी बांका नहीं हुआ।मय्मार के लोग इस जगह की पूजा करते है और इसको भगवान का रूप मानते है, और यहाँ पर हर टाइम दर्शन करने के लिए भारी संक्या में भक्तो की भीड़ लगी रहती है। इसका नाम स्थानीय लोगो ने गोल्डन रॉक व क्यैकटियो पगोडा निकाला है। यही पर बर्मा के बुद्धिस्ट लोगों का प्रमुख तीर्थ स्थल भी माना जाता है।

आंधी और तूफ़ान आये इसका बाल भी बांका नहीं

यह पत्थर एक छोटे से पत्थर पर टिका है और इसका पूरा हिस्सा बाहरी रूप से लटका हुआ है। और जो भी व्यक्ति इसको देखता है बोलता है की यह कभी भी गिर सकता है। लेकिन आज इतने आंधी और तूफ़ान आये इसका बाल भी बांका नहीं हुआ। इसको जब आम आदमी देखता है तो ऐसा लगता है की ये पूरा सोने का हो, इसके चलते इसका नाम भी ‘द गोल्डन रॉक’ के नाम से प्रसीद हो गया।इस पत्थर की सबसे खास बात ये है की यहाँ पर नवंबर से लेकर मार्च तक लाखों की संख्या में लोग पूजा-अरचना कर इस पत्थर से मनत मांगते है। और यहाँ के लोगो का यह भी  कहना है की एक साल में तीन बार इस पत्थर के पास जाकर जो पूजा करता है उसके सभी दुःख दूर होने के साथ साथ धन और शोहरत की बारिश होती है। आजतक इस पत्थर के बारे में कोई नहीं जान पाया है की इतना भारी भरकम होने के बाद भी यह पत्थर कैसे हवा में लटका है और कभी हिला भी नहीं...


यह भी पढ़े : 3 तलाक के विरोध में जज को लिख डाला खून से खत

यह भी पढ़े : पर्दा प्रथा ! भारत में इस तरह शुरुआत हुई पर्दा प्रथा की, बड़ी दिलचस्प है वजह

यह भी पढ़े: इस गांव में सुनसान पड़े है सभी बैंक और ATM, जानिए वजह

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

Most Read
Latest News
© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.