loading...
loading...
loading...
भारत में क्रिकेट खेल साथ साथ धर्म भी प्रशासन की सख्ती के बावजूद फिर अवैध रूप से गर्भपात संकल्प कैंप में बच्चों को गुरुबाणी, गुरु इतिहास और रहित मर्यादा बारे जानकारी दी पेय पदार्थ के नाम पर दुकानदार परोस रहे है जहर भारत और विश्व के इतिहास में 27 जून की प्रमुख घटनाएं रेशा देवी ने कहा- युवाओं को नशे से दूर करने के लिए धर्म के साथ जोड़े दार्जिलिंग: भारी बारिश और बंद के माहौल में मुस्लिमो ने मनाया ईद-उल-फितर रमन शर्मा ने कहा- अापातकाल देश के इतिहास में काला दिन खाना खजाना प्रतियोगिता में महिलाओं ने दिखाया उत्साह कंडबाड़ी में NGO परिवर्तन द्वारा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन बालड़ी रक्षक योजना ने तोडा दम स्वास्थ्य को लेकर महिलाओं का उदासीन रवैया इफ्तार पार्टी है नौटंकी, इसकी हमे क्या जरूरत: गिरिराज सिंह 2018 से बदल सकता है वित्त वर्ष, इस साल नवंबर में पेश हो सकता है बजट WWC 2017: ऑस्ट्रेलिया का विजयी आगाज, इंडीज को दी 8 विकेट से शिकस्त दिल्ली के नामी ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी के वेयर हाउस में 37 लाख रुपये की लूट 3 जुलाई को भोपाल में होगा ग्लोबल स्किल पार्क का शिलान्यास: चौहान मोदी के सपोर्ट में न्यूड होने वाली हॉट एक्ट्रेस ने थामा एनसीपी का दामन बैंक मैनेजर पिता 6 माह से कर रहा था अपनी बेटी के साथ ऐसा शर्मनाक काम ... भोपाल में पंचायती राज मंत्रियों का सम्मेलन 27 जून को होगा आयोजित
शौकीन ! इस शख्स के पास है 330 करोड़ कीमत की कारें ... जानिए इनके बारे में
sanjeevnitoday.com | Monday, November 28, 2016 | 11:12:43 AM
1 of 1

हांगकांग। सबके शौक अलग -अलग होते है। कुछ के सीधे  तो कुछ के अजीब। ऐसे ही इस शक्श का शौक है। शौक के चलते फरारी जैसी बड़ी कारों को कलेक्ट करना एक अजीबोगरीब मामला है। जी हां, हांगकांग में एक शख्स को फरारी कलेक्ट करने का शौक है। डेविड ली नाम के इस शख्स के पास 330  करोड़ कीमत की कारें हैं। डेविड का मानना है कि उन्होंने अपने माता पिता को जीवन भर मेहनत करते देखा है और खुद भी मेहनत कर खूब पैसा कमाया है। डेविड ली के पास बड़ी तादाद में सुपरकारों का कलेक्शन है, जिसमें फरारी उनकी खास पसंद है।

उनका व्यापार दुनिया भर में फैला हुआ
उनके पिता हिंग वा ली 13 साल की उम्र में गरीबी से बचने के लिए और एक बेहतर जीवन के लिए चीन से हांगकांग चले गए थे। वहां जाकर उन्होंने मणि की नक्काशी करनी सीखी और कुछ ही सालों के अंदर अपनी ज्वैलरी की दुकान खोली थी। कारोबार में जल्दी सफलता के चलते कुछ टाइम के बाद वह 9 साल के बेटे डेविड के साथ अमेरिका चले गए। डेविड ने फोर्ब्स मैग्जीन से कहा कि इन बड़ी-बड़ी कारों का कलेक्शन उन्होंने खुद के पैसे से किया है, उनकी इस सफलता के लिए अपने पिता को क्रेडिट दिया है। अब उनका व्यापार दुनिया भर में फैला हुआ है।

 

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

यह भी पढ़े : भागदौड़ भरी जिंदगी मे यूं लगाएं सेक्स लाइफ में तड़का...!

यह भी पढ़े: ओह! तो महिलाएं इस वजह से भी करती हैं ऑर्गैजम का नाटक...!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 

 

 



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.