संजीवनी टुडे

News

स्त्री एक अद्भुत रचना, जाने स्त्री के बारे में कुछ अलग

Sanjeevni Today 01-12-2016 17:18:02

नई दिल्ली। एक बार एक देवदूत ने ईश्वर से प्रश्न किया, 'प्रभु स्त्री को बनाना आपके लिए मुश्किल क्यों था?' ईश्वर ने कहा, 'स्त्री मेरी ऐसी रचना है जो हर विषम परिस्थिति में अपने पैर पीछे नहीं करती है।
हर मुसीबत में संभाल कर रखती है। मैंने स्त्री में इतने गुण विद्यमान किये हैं कि अगर इनके सामने बड़ी से बड़ी मुसीबत भी आ जाए तो ये उसे हंसकर स्वीकार कर लेती है। इतना प्रेम डाला है कि पूरी दुनिया एक तरफ और स्त्री का प्रेम एक तरफ ताकि स्त्री के प्रेम में कमी नहीं आए।'

देवदूत ने जिज्ञासा पूर्वक ईश्वर से पुनः प्रश्न करते हुए कहा, 'स्त्री कितनी भी मजबूत हो लेकिन पुरुष से तो कमजोर है? ईश्वर ने कहा, 'स्त्री की ताकत उसके आंसू हैं।' देवदूत ने पूछा, 'वह कैसे?'तब ईश्वर ने बहुत ही सुंदर उत्तर देते हुए कहा, 'स्त्री जब रोती है, तो वह स्वयं को कमजोर समझती है। लेकिन इन्हीं आंसुओं से स्त्री को वो ताकत मिलती है, जिससे वह बड़ी से बड़ी मुश्किलों को हरा सकती है

यह भी पढ़े: ये है दुनिया के सबसे पेचीदा 21 तथ्य जिनका जानना बेहद जरुरी... पढ़े एक बार

यह भी पढ़े: मनुष्यों के लिये अंग उगाएगी छिपकली की पूंछ!

यह भी पढ़े: गर्लफ्रैंड के गालों के रंग से जानिए वो कितनी लकी है आपके लिए..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 

Watch Video

More From useful-tips

Recommended