loading...
loading...
loading...
फर्जी चिकित्सकों के खिलाफ स्वास्थ्य विभाग सतर्क स्वास्थ्य और पर्यावरण की सुरक्षा के लिए मिनी दौड़ का आयोजन अफगानिस्तान में डैम के पास हुआ आतंकी हमला, 10 पुलिसकर्मी शहीद IND vs WI: अजिंक्य रहाणे सेंचुरी जमाकर आउट, कोहली-पंड्या क्रीज पर FB से हुए नाराज बिग बी, ट्विटर पर की शिकायत श्रीनगर में स्कूल के भीतर छुपे दो आतंकवादियों की मुठभेड़ में मौत, दो जवान जख्मी IND vs WI: रहाणे शतक के करीब, कोहली क्रीज पर, score 192/1 मीरा कुमार ने निर्वाचक मंडल की लिखी चिट्ठी, कहा - इतिहास रचने का है मौका लग्जरी गाड़ी से हो रही थी शराब की तस्करी, पुलिस ने की पकड़ने में सफलता हासिल मध्य प्रदेश पुलिस ने किया इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला ऐसा काम 'ये हैं मोहब्बतें...' के ऐक्टर्स दिव्यांका त्रिपाठी और विवेक दहिया बने नच बलिए सीजन 8 के विनर भोपाल दुनिया के लिए स्मार्ट सिटी का होगा मापदंड: शिवराज सिंह IND vs WI: धवन-रहाणे ने जड़े अर्धशतक, धवन हुए आउट इंतजार खत्म हुआ, चांद का हुआ दीदार, कल मनाई जाएगी ईद आनंदपाल के आम इंसान से एक गैंगस्टर बनने की ये है पूरी कहानी...... IND vs WI: धवन-रहाणे ने दी भारत को मजबूत शुरुआत, बारिश के कारण मैच 43 ओवर का पुलिस की प्रेस कांफ्रेंस में बदमाश ने दी ऐसी धमकी, सुनकर पुलिस हुई हैरान फेसबुक पर फॉलोइंग में विराट ने कई दिग्गजों को पछाड़ा बने नंबर-1 अमृत योजना के तहत होगा सीवरेज का निर्माण, लोगो को मिलेगी बेहतर सुविधाएं PICS: ब्रालैस होकर पार्टी में पहुंची हॉलीवुड एक्ट्रेस DAISY LOWE
न्याय पाने के लिए अपनाया अनोख तरीका, 1,000 किलोमीटर से अधिक की पैदल यात्रा
sanjeevnitoday.com | Thursday, December 1, 2016 | 05:13:16 PM
1 of 1

दुबई। सार्वजनिक पार्क में रह रहे 48 वर्षीय एक भारतीय व्यक्ति ने स्वदेश लौटने के लिए विमान का टिकट हासिल करने के उद्देश्य से अदालती कार्यवाहियों में शामिल होने के लिये दो साल में 1,000 किलोमीटर से अधिक की पैदल यात्रा की है। उसके पास बस के टिकट तक के लिए पैसे नहीं थे।

तिरचिरापल्ली के मूल निवासी जगन्नाथ सेल्वराज दुबई के व्यस्त राजमार्गों पर गर्मी, धूल भरी आंधी और थकावट का सामना करते हुए अदालत की कार्यवाही में पहुंचा। वह सोनापुर में एक सार्वजनिक पार्क में रहता था और वहां से अदालत की एक तरफ की दूरी 22 किलोमीटर है। सोनापुर से करामा तक बस यात्रा में कुछ दिरहम लगते हैं, लेकिन सेल्वराज के पास बस से यात्रा करने का पैसा नहीं था, जिससे उसे अदालत की प्रत्येक सुनवाई में शामिल होने के लिए एक तरफ की यात्रा में दो घंटे लगते थे। इन चार घंटों में उसने 44 किलोमीटर की यात्रा की और उसके मामले पर फैसला आने तक हर पखवाड़े उसे अदालत आना पड़ता

यह भी पढ़े: ये है दुनिया के सबसे पेचीदा 21 तथ्य जिनका जानना बेहद जरुरी... पढ़े एक बार

यह भी पढ़े: मनुष्यों के लिये अंग उगाएगी छिपकली की पूंछ!

यह भी पढ़े: गर्लफ्रैंड के गालों के रंग से जानिए वो कितनी लकी है आपके लिए..!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप

 


FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.