Sanjeevni Today: Top Stories of 9am जो शक्तिशाली पडोसी देश है उनके बीच मतभेद स्वाभाविक: PM मोदी ISI की साजिश थी, इंदौर-पटना एक्सप्रेस का पटरी से उतरना निक्केई 0.20% कमजोरी के साथ 18,776 ओबामा प्रशासन की ट्रंप पर फर्जी आरोप लगाकर कमजोर करने की कोशिश: पुतिन जो रूट नहीं खेलेंगे इस साल IPL, छोड़ने की बताई ये वजह आतंकवाद से निपटने के लिए भारत की सहायता की जरुरत है :अमेरिका दो साल में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या बढ़ी डेढ़ गुना पढ़ें: इतिहास के पन्नों में 18 जनवरी का दिन क्यों है खास पाकिस्तान विमान हादसा : जांच के लिए पायलटों के शव निकाले जाएंगे कब्र खोदकर! अपराधियों और बागियों के आलावा मुलायम की और से सबको OK 'आर्मी जवानो' को मिलेंगे मॉडर्न-हेलमेट, इसमें क्या होगा खास खुशखबरी : वोडाफोन 250 में देगा 4 जीबी डेटा डीविलियर्स ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया ये बड़ा बयान, कहा... क्या आप जानते है Keyboard के बटन अल्फाबेटिकल क्यों नही होते 60 अंक बढ़त के साथ सेंसेक्स 27350 , निफ्टी 8450 के करीब विराट कोहली को रोकने के लिए इंग्लैंड को बनानी होगी यह खास योजना आज का राशिफल (18 जनवरी 2017) सुल्तान कुतबुद्दीन ऐबक का इतिहास ये है ऐसा देश जहां मर्द करते है महिलाओ की गुलामी..
जुड़वाँ नवजात बच्चो के 2 सिर लेकिन दिल 1 ...क्या दोनों को मिलेगा जीवन
sanjeevnitoday.com | Monday, November 28, 2016 | 11:39:39 AM
1 of 1

जोधपुर। जोधपुर में एक बेहद अजीब मामला सामने आया है। इन नवजात बच्चो के शरीरी में 1 दिल धड़क रहा है। सबसे बड़ी बात ये है कि दोनों बच्चों का पेट तो एक है लेकिन सिर दो हैं। इनके जन्म के बाद डॉक्टर्स की पूरी टीम सर्जरी करने के लिए गहनता से मंथन कर रही है। उम्मेद अस्पताल के पूर्व अधीक्षक और शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ। अनुराग सिंह की देखरेख में इन बच्चों को आईसीयू वार्ड में रखा गया है और स्वास्थ्य को लेकर लगातार गंभीरता बरती जा रही है। इससे पूर्व भी यहां एक जुड़वां बच्चे का मामला आया था, जिसे बाद में एम्स में भेजा गया था। जटिल सर्जिरी के बाद दोनों को अलग किया गया था। अब वे दोनों सकुशल हैं।

डॉक्टर का कहना है अर्धविकसित है बच्चा 
इस ताजा मामले में एक बच्चा पूरी तरह से विकसित और दूसरा अर्द्ध विकसित बताया जा रहा है। ऐसे में चिकित्सकों की टीम गहन मंथन के बाद ही सर्जरी कर अलग करने का निर्णय लेगी। डॉ। अनुराग सिंह ने बताया की ऐसे रेयर मामले ही होते हैं। इस मामले में काफी जटिलता है क्योंकि हृदय दोनों का आपस में जुड़ा होने से परेशानी रही है हो। अभी फिलहाल ज्यादा कुछ नहीं कहा जा सकता, लेकिन काफी मुश्किल है। उन्होंने बताया की दोनों बच्चों का वजन तीन किलो सात सौ ग्राम है। आपको बता दें कि बाड़मेर की रहने वाली हेमलता को शुक्रवार को उम्मेद अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहां देर रात उसने सामान्य प्रसव में दो जुड़वां बच्चों को जन्म दिया था, लेकिन दोनों का हृदय आपस में जुड़ा होने से चिकित्सकों के लिए भी गहन मंथन का विषय बना हुआ है।

यह भी पढ़े: स्त्री में सम्भोग की इच्छा बढ़ाने के 4 सबसे आसान घरेलू उपाय...

यह भी पढ़े : भागदौड़ भरी जिंदगी मे यूं लगाएं सेक्स लाइफ में तड़का...!

यह भी पढ़े: ओह! तो महिलाएं इस वजह से भी करती हैं ऑर्गैजम का नाटक...!

यह भी पढ़े : ताज़ा और रोचक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए डाउनलोड करें हमारा एंड्राइड न्यूज़ ऍप



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.